विदेश

एक इंटरव्यू में एंकर ने इमरान खान से उइगर मुसलमानों पर पूछ लिया सवाल

इस्लामाबाद
मुस्लिम जगत की चौधराहट को बेताब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने पड़ोसी चीन में उइगर मुसलमानों के अत्याचार पर लंबी खामोशी ओढ़ रखी है। उनको पीएम बने भी 17 महीने से ज्यादा हो गए हैं, लेकिन अब तक यही कहते रहे हैं कि चीन के शिनझियांग प्रांत में मुसलमानों के साथ क्या हो रहा है, उसका उन्हें कुछ पता नहीं है।
हालांकि, इस बार स्विट्जरलैंड के शहर दावोस में आयोजित विश्व आर्थिक सम्मेलन से इतर एक इंटरव्यू के दौरान पीएम इमरान बुरी तरह घिर गए। जब वह कश्मीर और भारत के मुसलमानों का राग छेड़ रहे थे, तभी एंकर ने उनसे उइगर मुसलमानों पर सवाल पूछ लिया। जब इमरान ने इस सवाल पर कन्नी काटनी चाही तो एंकर ने सीधा-सीधा कहा कि आप इसलिए उइगर मुसलमानों के बारे में नहीं जानना चाहते हैं क्योंकि चीन से आपके आर्थिक संबंध हैं। एक पाकिस्तानी पत्रकार ने ही बातचीत का यह अंश ट्वीट किया है।

एंकर- आपके दूसरे पड़ोसी चीन के पश्चिमी प्रांत शिनझियांग में क्या हो रहा है? वहां महीनों से मुसलमानों पर अत्याचार के लगातार सबूत मिल रहे हैं। इस पर आप क्यों नहीं बोलते हैं?

इमरान- पहली बात यह है कि कश्मीर पाकिस्तान और भारत के बीच का विवादित क्षेत्र है। इसका हमसे सीधा लेनादेना है क्योंकि यह मेरा पड़ोसी है

एंकर- लेकिन मैं सिर्फ कश्मीर की बात नहीं कर रही हूं, व्यापक मुद्दे की बात कर रही हूं। आप भी पूरे भारत के मुसलमानों की बात करते हैं। आप भारत के सत्तारूढ़ दल की विचारधारा की बात करते हैं। शिनझियांग में चीनी मुसलमानों के साथ जो हो रहा है, क्या आपको उसकी थोड़ी भी चिंता है?

इमरान- मुझे इसके बारे में पर्याप्त जानकारी नहीं है। अगर मुझे अच्छी तरह पता चला तो मैं चीन से प्राइवेट में बात करूंगा।

इस पर एंकर ने इमरान से कहा कि चीन के पॉलिसी डॉक्युमेंट्स से दुनिया को पता चल गया है कि शिनझियांग में क्या हो रहा है। इस पर इमरान ने फिर से अपनी अनभिज्ञता जाहिर की। तो एंकर ने इमरान को कहा, 'आपने ठान लिया है कि इसके बारे में पता नहीं करना है क्योंकि चीन के साथ आर्थिक संबंध आपके लिए बहुत मायने रखता है।'

Related Articles

Close