एयरपोर्ट पर भोपाल से अमेरिका जा रहे यात्री का लैपटाप छूटा, सीआइएसएफ ने दूसरे विमान से मुंबई पहुंचाया

भोपाल
एयर इंडिया की मुंबई उड़ान से रवाना हुए एक यात्री का लैपटाप राजा भोज एयरपोर्ट पर ही रह गया। यात्री को कनेक्टिंग उड़ान से उच्च अध्ययन के लिए अमेरिका जाना था। उसके टिकट एवं वीजा सभी लैपटाप में ही थे। सीआइएसएफ के एक इंस्पेक्टर ने कर्तव्यपरायणता की मिसाल पेश करते हुए दूसरे विमान से लैपटाप मुंबई तक पहुंचाया। जानकारी के अनुसार सोमवार को इंडस गार्डन बावड़िया कला निवासी सार्थक चौहान एयर इंडिया की उड़ान से मुंबई रवाना हुए थे। विमान में सवार होने से पहले उन्होंने सीआइएसएफ के हैंड बैगेज जांच काउंटर से सामान की जांच भी कराई। जांच के दौरान ही उनका लैपटाप काउंटर पर रह गया।

सीआइएसएफ के इंस्पेक्टर ने पेश की मिसाल
विमान टेकआफ होने के बाद इंस्पेक्टर पीएल कुर्मी की नजर लैपटाप पर पड़ी। लैपटाप लाक था, उस पर केवल सार्थक लिखा आ रहा था। कुर्मी ने एयरलाइंस से संपर्क कर यात्री का विवरण निकलवाया। इधर, सार्थक चौहान जैसे ही मुंबई एयरपोर्ट पर उतरे लैपटाप न देखकर चिंतित हो उठे। उसी समय मोबाइल पर इंस्पेक्टर कुर्मी ने उन्हें जानकारी दी कि आपका लैपटाप एयरपोर्ट पर ही रह गया है। कुर्मी ने अगली उड़ान से जा रही दो छात्राओं को लैपटाप मुंबई तक पहुंचाने का आग्रह किया। यह उड़ान जैसे ही मुंबई एयरपोर्ट पर लैंड हुई, छात्राओं ने लैपटाप सार्थक को दे दिया।

इंडिगो की उड़ान से पहुंचाया
सार्थक को लैपटाप एयरपोर्ट पर होने की जानकारी तो मिल गई लेकिन उसे इस बात की चिंता सता रही थी कि यदि लैपटाप नहीं मिला तो वह अमेरिका कैसे रवाना हो पाएगा। कुर्मी ने मामले की गंभीरता को देखते हुए इंडिगो की उड़ान से मुंबई जा रही दो छात्राओं को लैपटाप मुंबई तक पहुंचाने का आग्रह किया। यह उड़ान जैसे ही मुंबई एयरपोर्ट पर लैंड हुई, छात्राओं ने विमान से उतरकर लैपटाप सार्थक को सौंप दिया। सार्थक ने इंस्पेक्टर कुर्मी की कर्तव्यपरायणता की सराहना करते हुए उनका आभार माना है। सार्थक ने कहा कि यदि मुझे लैपटाप समय पर न मिलता तो शायद में अमेरिका रवाना नहीं हो पाता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *