डॉ. चंदेल ने ली कृषि विज्ञान केन्द्र महासमुंद में वैज्ञानिक सलाहकार समिति की बैठक

रायपुर
इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. गिरीश चंदेल ने विश्वविद्यालय के अंतर्गत संचालित कृषि महाविद्यालय एवं अनुसंधान केन्द्र तथा कृषि विज्ञान केन्द्र, महासमुंद का भ्रमण किया। महासमुंद प्रवास के अवसर पर डॉ. चंदेल ने कृषि महाविद्यालय एवं कृषि विज्ञान केन्द्र, महासमुंद में संचालित अनुसंधान कार्यों, विभिन्न गतिविधियों एवं प्रक्षेत्र का अवलोकन किया एवं उसकी सराहना की। भ्रमण के दौरान उन्होंने अधिकारियों एवं वैज्ञानिकों को ऐसी कार्ययोजना बनाने एवं उसपर कार्य करने की सलाह दी जिससे किसानों की आय में वृद्धि की जा सके।

इस दौरान उन्होंने कृषि महाविद्यालय एवं अनुसंधान केन्द्र, महासमुंद में स्थित अनुसंधान प्रयोगशालाओं का अवलोकन भी किया। इस अवसर पर डॉ. गिरीश चंदेल ने कृषि विज्ञान केन्द्र, महासमुंद में नवनिर्मित पैरा मशरूम उत्पादन एवं बीज प्रक्रिया ईकाई का उद्घाटन किया। इस अवसर पर महासमुंद जिला के जिलाधीश निलेश कुमार क्षीरसागर, इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय की प्रबंध मण्डल सदस्य श्रीमती वल्लरी चन्द्राकर, निदेशक विस्तार डॉ. पी.के. चन्द्राकर, जिला पंचायत, महासमुंद के मुख्य कार्यपालन अधिकारी सचिदानंद आलोक, महाविद्यालय के अधिष्ठाता डॉ. अनुराग तथा प्रगतिशील कृषक उपस्थित थे।

इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. गिरीश चंदेल के महासमुंद प्रवास के अवसर पर कृषि विज्ञान केन्द्र, महासमुंद, रायपुर एवं दुर्ग के वैज्ञानिक सलाहकार समिति की बैठक का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि की आसंदी से कुलपति डॉ. गिरीश चंदेल ने कहा कि इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय जल्द ही केन्द्र सरकार, राज्य सरकार एवं बीज निगम के साथ मिलकर एक किसानोंपयोगी योजना लाने की तैयारी कर रहा है जिससे राज्य के किसानों को अपने उत्पाद को विक्रय करने में परेशानी ना हो और उन्हें इसका उचित मूल्य मिल सके। उन्होंने बताया कि जल्द ही विश्वविद्यालय के अंतर्गत संचालित कृषि विज्ञान केन्द्रों में बीज प्रक्रिया इकाई प्रारंभ की जायेगी जिससे जिले के किसानों को उनकी मांग के अनुसार इंदिरा ब्रांड के नाम से विभिन्न फसलों के बीज उपलब्ध कराये जाएंगे। बैठक में महासमुंद कलेक्टर निलेश कुमार ने आश्वस्त किया कि किसानोंपयोगी विभिन्न योजनाओं हेतु जिला प्रशासन कृषि विज्ञान केन्द्र को हरसंभव मदद प्रदान करेगा। उन्होंने केन्द्र में संचालित अनुसंधान गतिविधियों की सराहना की। इस अवसर पर उपस्थित अन्य अतिथियों ने भी कृषकोपयोगी बहुमुल्य सुझाव दिए। वैज्ञानिक सलाहकार समिति की बैठक में कृषि विज्ञान केन्द्र महासमुंद, रायपुर एवं दुर्ग के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. एस.के. वर्मा, डॉ. एस.एस. चन्द्रवंशी एवं डॉ. विजय जैन ने अपने-अपने केन्द्रों में किये जा रहे गतिविधियों एवं किसानोंपयोगी कार्यक्रमों की विस्तृत जानकारी दी। इस बैठक में निदेशक विस्तार सेवायें की वरिष्ठ वैज्ञानिक श्रीमति दीप्ति झा एवं श्रीमती ज्योति भट्ट ने भी भाग लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *