केरल: माकपा नेता केटी जलील ने POK को बताया आजाद कश्मीर, जमकर हो रही है आलोचना

तिरुवनंतपुरम
केरल के पूर्व मंत्री और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) के विधायक केटी जलील ने कश्मीर को लेकर एक विवादित बयान दिया है। केटी जलील (KT Jaleel) ने गुलाम कश्मीर को 'आजाद कश्मीर' कहा है। इस बयान के बाद केरल के पूर्व मंत्री की जमकर आलोचना हो रही है। समाचार एजेंसी एएनआइ के मुताबिक, कुछ दिनों पहले ही केटी जलील कश्मीर गए थे। उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों की भारी तैनाती की वजह से घाटी के लोग हंसना भूल चुके हैं।

उन्होंने आगे कहा कि गुलाम कश्मीर वाले हिस्से पर पाकिस्तान का बड़ा प्रशासनिक नियंत्रण नहीं है, जिसे पाकिस्तान आजाद कश्मीर के रूप में बताता है। केरल के विधायक ने अपने सोशल मीडिया पोस्ट में कहा, 'कश्मीर का जो हिस्सा पाकिस्तान के पास है उसे 'आजाद कश्मीर' के नाम से जाना जाता है। इस क्षेत्र में पाकिस्तानी सरकार का सीधा प्रभाव नहीं है। वहीं इस क्षेत्र में चलने वाली मुद्रा और सैन्य मदद ही पाकिस्तान के नियंत्रण में है। जलील ने आगे कहा, 'गुलाम कश्मीर की अपनी सेना थी। पाकिस्तान सरकार की कोई बड़ी प्रशासनिक शक्ति गुलाम कश्मीर में मौजूद नहीं है।

अनुच्छेद 370 खत्म करने पर केटी जलील ने उठाए सवाल
केरल के विधायक ने कहा कि सुरक्षा बलों की भारी तैनाती ने कश्मीर की रूप रेखा बदल दी है। उन्होंने कहा कि कश्मीर में लोग सामान्य स्थिति के लिए तरस रहे हैं। जलील ने दावा किया कि जम्मू कश्मीर का विभाजन वहां की जनता को रास नहीं आई है। उन्होंने कहा, 'आप जिधर देखते हैं उधर ही केवल राइफलों के साथ सेना दिखाई देखते हैं। कई महीनों से जम्मू कश्मीर में कोई राजनीतिक गतिविधियां नहीं हो रही है। एनडीए सरकार के दूसरे कार्यकाल में मोदी सरकार ने जम्मू कश्मीर को तीन टुकड़ों में विभाजित कर दिया, जिससे कश्मीर की जनता खफा है। उन्होंने यह भी सवाल उठाया कि क्या अनुच्छेद 370 को रद्द करना एक सही कदम था? जलील ने कहा, 'कश्मीर में लोग सामान्य स्थिति वापस बहाल करने की उम्मीद कर रहे हैं।'

वी. मुरलीधरन ने की केटी जलील की आलोचना
वहीं, केटी जलील के बयान पर विदेश और केंद्रीय संसदीय मामलों के राज्य मंत्री वी. मुरलीधरन ने तीखा हमला किया है। उन्होंने कहा कि एक निर्वाचित विधायक द्वारा गुलाम कश्मीर को आजाद कश्मीर बताना और कश्मीर राज्य को भारत अधिकृत कश्मीर कहना देशद्रोह है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *